Really bats are responsible for Corona ?

                                                                                                                     ( See bottom for Hindi )
Whether from Bats corona has come to the world could not be specifically told by the scientists. Lot many debates have come up about bats and pangolins as the mediator and inter mediator hosts of corona. Researchers are telling that some virus found in some species of bats have got similarity with corona virus. Most recently some scientists of Thailand are claiming that there is a probability that SARS Cov virus might have spread from bats. And it may be possible that before entering into human body this virus might have become more fatal by changing its genetic constructional system.

If indeed corona has come from bats to human then to find out this intermediary transformation period the Thailand scientists are going into the caves to collect the samples of different kind of bats.

From the caves of Shy Yolk national Park of Thailand the samples of the faeces, urine, blood and sputum of 200 bats have been collected. Samples of 19 species of horse shoe bats have been collected. Bats are the predators of many types of virus. Bats are the hosts of many types of virus like bita corona virus family from which SARS cov -2 has generated. Scientists say that many decades back similar to novel corona types of virus has been found in bats. And it is possible that after 40 to 70 years those virus have undergone the process of mutation and converted into Cov -2.

Further Thailand scientists told that after examining the samples of faeces, urine, blood and sputum of those 200 bats they found few viruses which have got little similarities with Cov -2. It may be possible that as long as those virus remain in the body of bats are not that fatal infectious. But before entering in to the body of human they might have changed their genetic structural formation under mutation and became severely fatal for human. This fact can be known after much of research work

Virus may be fatal or non-fatal but to multiple in numbers they require a body which is known as reservoir. Virus never do any harm to the reservoirs. Rather they increase in number treating the reservoir as the host body. And the most surprising thing is that bats do have the resistant power of such extreme level by which it remains uninfected but can carry the virus like a host leading a normal life. The virus which can create asymptomatic infections that can also grow relaxedly in the body of a bat.

Bats generally avoid the human contacts. But the way the massive deforestation is ongoing bats are lacking their normal source of food. In addition to that due to chopping of trees they are not getting places to live. More ever human is now coming very close to them for hunting bats to eat. So it is quite natural for the virus growing in the body of bat to move in a bigger host like human to grow profusely when they get an opportunity to do that. Thenafter according to their own choice they mutate their genetic structural formation and convert themselves into a more fatal infectious virus.  Now the million dollar question is whether SARS covid-2 has spread in the same manner or not.


चमगादड़ से कोरोना दुनिया में  आया है या नहीं यह वैज्ञानिकों द्वारा विशेष रूप से नहीं बताया जा सका  है। बहुत सारे विवाद चमगादड़ और पैंगोलिन के बारे में सामने आए हैं क्योंकि कोरोना के मध्यस्थ और अंतर मध्यस्थ मेजबान कौन कौन हैं किसीको भी पता नहीं। शोधकर्ता बता रहे हैं कि चमगादड़ की कुछ प्रजातियों में पाए जाने वाले कुछ वायरस को कोरोना वायरस से समानता मिली है। हाल ही में थाईलैंड के कुछ वैज्ञानिक दावा कर रहे हैं कि एक संभावना है कि SARS Cov  वायरस चमगादड़ से फैल सकता है। और यह संभव हो सकता है कि मानव शरीर में प्रवेश करने से पहले यह वायरस अपने आनुवंशिक निर्माण प्रणाली को बदलकर अधिक घातक हो गया  है।

यदि वास्तव में कोरोना चमगादड़ों से मानव में आया है, तो इस मध्यस्थ परिवर्तन अवधि का पता लगाने के लिए थाईलैंड के वैज्ञानिक विभिन्न प्रकार के चमगादड़ों के नमूने एकत्र करने के लिए गुफाओं में जा रहे हैं।

थाईलैंड के श्य योक नेशनल पार्क की गुफाओं से 200 चमगादड़ों के मल, मूत्र, रक्त और थूक के नमूने एकत्र किए गए हैं। Horse Shoe  चमगादड़ की 19 प्रजातियों के नमूने एकत्र किए गए हैं। चमगादड़ कई प्रकार के वायरस के host  होते हैं। चमगादड़ कई प्रकार के वायरस के मेजबान हैं जैसे कि बिटा कोरोना वायरस परिवार जिसमें से SARS cov -2 उत्पन्न हुआ है। वैज्ञानिकों का कहना है कि कई दशकों पहले Novel  कोरोना प्रकार के वायरस के समान वायरस चमगादड़ में पाया गया है। और यह संभव है कि 40 से 70 वर्षों के बाद उन विषाणुओं ने उत्परिवर्तन की प्रक्रिया से गुजरा  और Cov -2 में परिवर्तित हो गया   हो।

आगे थाईलैंड के वैज्ञानिकों ने बताया कि उन 200 चमगादड़ों के मल, मूत्र, रक्त और थूक के नमूनों की जांच करने के बाद उन्हें कुछ वायरस मिले, जिनमें Cov  -2 के साथ थोड़ी समानता है। यह संभव हो सकता है कि जब तक चमगादड़ के शरीर में वायरस रहते हैं, तब तक यह घातक संक्रामक नहीं होता है। लेकिन मानव के शरीर में प्रवेश करने से पहले उन्होंने उत्परिवर्तन के तहत अपने आनुवंशिक संरचनात्मक गठन को बदल लिया होता है  और मानव के लिए गंभीर रूप से घातक बन जाते है इस तथ्य को और काफी शोध कार्य के बाद जाना जा सकता है

वायरस घातक या गैरघातक हो सकता है लेकिन संख्या में बृद्धि  के लिए उन्हें एक शरीर की आवश्यकता होती है जिसे reservoir  के रूप में जाना जाता है। वायरस कभी भी reservoir  को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता है। बल्कि वे reservoir  को मेजबान निकाय मान कर  संख्या में वृद्धि करते हैं। और सबसे आश्चर्य की बात यह है कि चमगादड़ में ऐसे चरम स्तर की प्रतिरोधक शक्ति होती है जिसके द्वारा यह खुद infected नहीं  रहता है लेकिन एक सामान्य जीवन जीने वाले मेजबान की तरह वायरस को अपने में पनपने देता  है। वायरस जो मानव में  संक्रमण पैदा कर सकता है  चमगादड़ के शरीर में आराम से बढ़ सकता है चमगादड़ को बिना कोई नुक्सान पहुचाये

चमगादड़ आमतौर पर मानव संपर्कों से बचते हैं। लेकिन जिस तरह से बड़े पैमाने पर वनों की कटाई चल रही है, उनके भोजन के सामान्य स्रोत की कमी होती जा रही है। इसके अलावा पेड़ों के कटने के कारण उन्हें रहने के लिए जगह नहीं मिल रही है। इसके अलावा  मानव अब खाने के लिए चमगादड़ के शिकार के लिए उनके बहुत करीब रहा है। इसलिए चमगादड़ के शरीर में पनप रहे विषाणु के लिए यह स्वाभाविक है कि मानव जैसे बड़े मेजबान में जब वे ऐसा करने का अवसर प्राप्त करते हैं तो मानव शरीर  में घुस कर बड़े पैमाने पर विकसित होते हैं। अपनी पसंद के अनुसार host में आने के बाद वे अपने आनुवंशिक संरचनात्मक गठन को बदल देते हैं और खुद को एक अधिक घातक संक्रामक वायरस में बदल लेते हैं। अब मिलियन डॉलर का सवाल है कि SARS Covid  -2 इसी  तरीके से फैला है या नहीं।

5 thoughts on “Really bats are responsible for Corona ?”
  1. 318128 568702Im not that significantly of a internet reader to be honest but your blogs actually nice, maintain it up! Ill go ahead and bookmark your site to come back inside the future. All of the finest 908178

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *